Friday, January 27, 2023
Homeउन्नत खेतीKisan Yojana:इस राज्य के किसानों के लिए खुशखबरी, सरकारी योजना के तहत...

Kisan Yojana:इस राज्य के किसानों के लिए खुशखबरी, सरकारी योजना के तहत नहीं देना होगा बिजली का बिल

Kisan Yojana:इस राज्य के किसानों के लिए खुशखबरी, सरकारी योजना के तहत नहीं देना होगा बिजली का बिल किसानों का खर्च कम करने और उनकी आय बढ़ाने के लिए सरकार कई तरह की योजनाएं तैयार कर रही है। इसके तहत केंद्र सरकार ने 2019 में किसानों को 6 लाख रुपये सालाना देने की योजना बनाई है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि। जिसकी मदद से किसान इस राशि से अपने खेत का छोटा-मोटा खर्चा निकाल सकता है। यह कार्यक्रम बहुत लोकप्रिय हुआ है और कई किसान इससे लाभान्वित भी हुए हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार भी इसी तरह की योजना लेकर आ रही है। ताकि किसानों का खर्चा कम से कम हो और उन्हें खेती में ज्यादा से ज्यादा मुनाफा हो। राजस्थान सरकार ने भी किसानों के लिए ऐसी ही एक योजना तैयार की है। इससे किसानों को उनके बिजली बिलों में बड़ी राहत मिलेगी। सरकार किसानों को उनके बिजली बिलों पर सब्सिडी प्रदान करेगी, जिससे उनका खर्च कम होगा और कृषि में मुनाफा बढ़ेगा।

Kisan Yojana

सरकार 40 लाख कनेक्शन जारी करेगी

राजस्थान सरकार ने आने वाले 2 वर्षों में 4.88 लाख कृषि लिंक जारी करने का लक्ष्य रखा है। वहीं, 2023-24 तक लंबित विद्युत कनेक्शन जारी करने की योजना है। यह योजना 17 जुलाई, 2021 को शुरू की गई थी। तब से गांव के किसानों और कृषि से जुड़े अन्य उपभोक्ताओं को बिजली बिलों में राहत मिल रही है। साथ ही किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध होती है। किसानों को पीएम कुसुम योजना और सौर कृषि आजीविका योजना से जुड़ने के लिए प्रेरित किया जा रहा है ताकि किसी तरह खेती की लागत कम हो सके.

सरकार सौर ऊर्जा को बढ़ावा देना चाहती है
अब गुजरात की तरह राजस्थान भी सौर राज्य बनने की यात्रा पर निकल पड़ा है। राज्य में सौर कृषि आजीविका योजना चलाई जा रही है, जिसके तहत अब किसान अपनी बंजर भूमि पर सौर ऊर्जा संयंत्र लगाकर अच्छी आजीविका कमा सकते हैं। सोलर प्लांट से बिजली का उत्पादन किया जा सकता है और बाजार में बेचा जा सकता है या फसलों की सिंचाई के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसके अलावा, राज्य सरकार ने अक्षय ऊर्जा पर काम करते हुए 10,463 मेगावाट सौर ऊर्जा और 2,700 मेगावाट पवन ऊर्जा उत्पन्न करने के लिए कई इकाइयां भी स्थापित की हैं। पीएम कुसुम योजना राज्य में भी जोर पकड़ रही है, जिसके तहत सितंबर तक 42 मेगावाट क्षमता के केंद्र स्थापित किए जा चुके हैं।

Kisan Yojana:इस राज्य के किसानों के लिए खुशखबरी, सरकारी योजना के तहत नहीं देना होगा बिजली का बिल

इस योजना में कैसे आवेदन करें?
इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसान को राजस्थान का मूल निवासी होना अनिवार्य है। वे किसान जो न तो आयकर का भुगतान कर रहे हैं और न ही केंद्र या राज्य सरकार के कर्मचारी इस योजना के तहत आवेदन करने के पात्र हैं। इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसानों को सबसे पहले अपने आधार खाते और बैंक खाते को पंजीकृत कर योजना से जोड़ना होगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular